This is an automatically generated PDF version of the online resource india.mom-rsf.org/en/ retrieved on 2020/09/21 at 21:38
Reporters Without Borders (RSF) & Data leads - all rights reserved, published under Creative Commons Attribution-NoDerivatives 4.0 International License.
Data leads logo
Reporters without borders

द हिन्दू

द हिंदू, एक अंग्रेजी दैनिक समाचार पत्र, भारत का सबसे पुराने समाचार पत्रों में से एक है यह1889 में एक दैनिक समाचार पत्र के रूप मे प्रकाशित होने से पहले साप्ताहिक समाचार पत्र के रूप में शुरू किया गया था। आज यह अखबार पूरे भारत में सत्रह केंद्रों से छपता है। इंडियन रीडरशिप सर्वे (IRS) 2017 के अनुसार, देश में सबसे अधिक पढ़े जाने वाले अंग्रेजी समाचार पत्रों के साथ 5.3 मिलियन पाठकों की संख्या रखने वाला यह अखबार तीसरे स्थान पर है। हिंदू समूह अपने अखबार "द हिंदू" के अतीतिक्त अखबार के तमिल संस्करण और कई पत्रिकाओं और फ्रंटलाइन, स्पोर्ट्स स्टार और बिजनेस लाइन जैसे अन्य समाचार पत्रों का प्रकाशन करता है। आज समाचार पत्र और कंपनियों का स्वामित्व कस्तूरी और संस लिमिटेड के माध्यम से कस्तूरी रंगा अयंगर के वंशजों के पास है।

मुख्य तथ्य

श्रोतागण शेयर

0.86%

स्वामित्व प्रकार

निजी

भौगोलिक कवरेज

राष्ट्रीय

सामग्री प्रकार

भुगतान किया हुआ

डेटा सार्वजनिक रूप से उपलब्ध है

स्वामित्व डेटा अन्य स्रोतों से आसानी से उपलब्ध है, उदाहरण सार्वजनिक रजिस्ट्रियां आदि

2 ♥

मीडिया कंपनियों / समूह

कस्तूरी एंड संस लिमिटेड

स्वामित्व

स्वामित्व - ढाँचा

हिंदू समाचार पत्र कस्तूरी एंड संस लिमिटेड द्वारा प्रकाशित किया जाता है। कस्तूरी एंड संस लिमिटेड के शेयर जी. नरसिम्हन, जी. कस्तूरी, एस पार्थसारथी और एस रंगराजन परिवारों के बीच विभाजित हैं, यह सभी एस कस्तूरी रंगा अयंगर के पोते हैं।

जी. नरसिम्हन परिवार के पास कस्तूरी एंड संस लिमिटेड का 22.67% हिस्सा है, और जी. कस्तूरी परिवार का 26.23%, एस पार्थसारथी परिवार का 24.94% और एस रंगराजन परिवार के पास कंपनी का 26.13% हिस्सा है।
इसलिए, कस्तूरी एंड संस लिमिटेड का 100% हिस्सा कस्तूरी परिवार के ही स्वामित्व में है और शेयर 46 परिवार के सदस्यों और एक कंपनी के बीच बंटे हुए हैं, जिसका स्वामित्व भी परिवार के पास ही है।

मताधिकार

अनुपलब्ध डेटा

व्यक्तिगत स्वामी

मीडिया कंपनियों / समूह
तथ्य

सामान्य जानकारी

स्थापना वर्ष

1878

संस्थापक संबद्ध व्यवसाय

गणपति दीक्षितर सुब्रमण्य अय्यर

अथवा जी. सुब्रमनिया अय्यर का जन्म 1855 में तत्कालीन मद्रास प्रेसीडेंसी के तंजावुर जिले में हुआ था। अपने प्रगतिशील और उदार विचारों के लिए दक्षिण भारतीय पत्रकारिता के प्रतीक के रूप में स्थापित, अय्यर ने अपने शुरुआती दिनों में शिक्षक के पेशे के लिए ट्रेनिंग प्राप्त की, एक शिक्षक के बतौर उन्होंने मद्रास में चर्च ऑफ स्कॉटलैंड मिशन स्कूल और पचायप्पा के हाई स्कूल जैसे स्कूलों में पढ़ाया। उन्हें एंग्लो-वर्नाक्युलर स्कूल के हेडमास्टर के रूप में भी नियुक्त किया गया था। उन्होंने 1878 में अपने दोस्तों, एम. वीराराघवाचार्य, टी. टी. रंगाचारी, पी. वी. रंगाचारी, डी. केशव राव और एन. सुब्बा राव पंतुलु के साथ द हिंदू अखबार की स्थापना की। अखबार शुरू में एक साप्ताहिक रूप मे प्रकाशित हुआ लेकिन 1889 में एक दैनिक समाचार पत्र में बदल गया। उन्होंने 1878 से 1898 तक अखबार के संपादक के रूप में कार्य किया और बाद मे वीरराघवाचार्य ने संपादकीय कमान संभाली। जी. सुब्रमण्य अय्यर ने 1882 में तमिल भाषा के अखबार स्वदेशमित्रन की भी शुरुआत की और इसे 1899 में दैनिक रूप से निकालना प्रारंभ किया। 1906 में इस अखबार को बैरिस्टर कस्तूरी रंगा अयंगर ने खरीदा था।

सी ई ओ संबद्ध व्यवसाय

नरसिम्हन राम:

एन. राम, नाम से जाने जाते हैं, टीएचजी पब्लिशिंग प्राइवेट लिमिटेड के अध्यक्ष हैं, जो द हिंदू समूह की एक प्रकाशन कंपनी है और द हिंदू अखबार का प्रकाशन भी करती है। वह कस्तूरी रंगा आयंगर के पोते हैं इन्होंने ही 1906 में द हिंदू अखबार इसके संस्थापक से खरीदा था। एन. राम. का प्रेसीडेंसी कॉलेज से इतिहास में परास्नातक है और कोलंबिया विश्वविद्यालय के ग्रेजुएट स्कूल ऑफ जर्नलिज्म से तुलनात्मक पत्रकारिता में डिग्री हैं। राम ग्रुप के प्रमुख प्रकाशनों- द हिंदू, फ्रंटलाइन, बिजनेसलाइन और स्पोर्टस्टार के प्रधान संपादक रहे हैं। इसके अलावा 1990 में पत्रकारिता के लिए भारत का तीसरा सबसे बड़ा नागरिक सम्मान, पद्म भूषण से सम्मानित भी किया गया, 1990 में प्रेस फाउंडेशन ऑफ एशिया से एशियन इंवेस्टिगेटिव जर्नलिस्ट ऑफ द ईयर अवार्ड, 1989 में पत्रकारिता में उत्कृष्टता के लिए बीडी गोयनका अवार्ड, राष्ट्रीय नागरिक पुरस्कार, 1995 में, XLRI's (जेवियर स्कूल ऑफ मैनेजमेन्ट) 2002 में बिजनेस एथिक्स के लिए पहला जेआरडी टाटा अवार्ड और श्रीलंका का सर्वोच्च राष्ट्रीय पुरस्कार दिया गया। इसके अतिरिक्त एन. राम, कई किताबों के लेखक भी हैं – वाय स्कैम आर हेयर टु स्टे', ‘ राइडिंग द न्यूक्लियर टाइगर' प्रमुख हैं। वह आर. के. नारायण: द अर्ली इयर्स’ के सह लेखक भी हैं। राम एशियन कॉलेज ऑफ जर्नलिज्म के साथ मीडिया डेवलपमेंट फाउंडेशन के संस्थापक ट्रस्टी हैं। वह कोलंबिया विश्वविद्यालय के ग्रेजुएट स्कूल ऑफ जर्नलिज्म के बोर्ड ऑफ विजिटर्स के सदस्य भी हैं।

मुख्या संपादक संबद्ध व्यवसाय

सुरेश नंबथ

एक मार्च, 2019 से द हिंदू के संपादक सुरेश नंबथ हैं इनके पहले मुकुंद पद्मनाभन ने संपादक थे वह 28 फरवरी, 2019 को सेवानिवृत्त हुए थे। सुरेश नंबथ 1996 से द हिंदू से जुड़े हैं वह प्रधान संपादक के रूप में इस अखबार से जुड़े और जुलाई 2006 से फरवरी 2012 तक तमिलनाडु ब्यूरो के प्रमुख रहे। अक्टूबर 2015 के बाद से वह अखबार के राष्ट्रीय संपादक रहे अक्सर उनकी अनुपस्थिति में संपादक के बतौर प्रतिनियुक्ति करते थे।

अन्य महत्वपूर्ण लोग संबद्ध व्यवसाय

मालिनी पार्थसारथी

एन. राम के चचेरे भाई और कस्तूरी रंगा अयंगर की बड़ी पोती है। वह द हिंदू ग्रुप ऑफ़ पब्लिकेशंस प्राइवेट लिमिटेड की सह-अध्यक्ष हैं। उन्होंने कोलंबिया विश्वविद्यालय से पत्रकारिता में एमएस की डिग्री और जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय से सेंटर फॉर पॉलिटिक्स स्टडीज़ से पीएचडी की है। मालिनी पराथसारथी द हिंदू की पूर्व संपादक भी हैं, उन्होंने द हिंदू सेंटर फॉर पॉलिटिक्स एंड पब्लिक पॉलिसी की भी स्थापना की। मालिनी पराथसारथी को 1997 में पत्रकारिता में उत्कृष्टता के लिए पहले बैंक ऑफ इंडिया पुरस्कार और महाराणा मेवाड़ फाउंडेशन, उदयपुर से हल्दीघाटी पुरस्कार से सम्मानित किया गया। वह पाकिस्तान में चुनाव के दौरान सार्क (दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन) चुनाव पर्यवेक्षक समूह की सदस्य रही हैं। इसके अलावा, वह ऑरोविले फाउंडेशन में गवर्निंग बोर्ड की सदस्य थीं। मालिनी पार्थसारथी कार्यकारी समिति और परियोजना अनुमोदन समिति, राष्ट्रीय साक्षरता मिशन प्राधिकरण की सदस्य रही हैं। पार्थसारथी केएसएल मीडिया लिमिटेड, टीएचएस पब्लिशिंग प्राइवेट लिमिटेड, कस्तूरी एंड संस लिमिटेड और केएसएल डिजिटल वेंचर्स लिमिटेड के निदेशक भी हैं।

संपर्क करें

कस्तूरी बिल्डिंग 859&860, अनासलाइ

चेनई, तमिलनाडू

इंडिया 600002

टेलीफोन : +91-44-28524445 and +91-44-28538155

फैक्स : +91-44-28415325

ईमेल : thc@thehinducentre.com

वेबसाइट : www.thehindu.com

 

वित्तीय जानकारी

राजस्व (मिलियन डॉलर में)

डेटा अनुपलब्ध

परिचालन लाभ

डेटा अनुपलब्ध

विज्ञापन (कुल धन का%)

डेटा अनुपलब्ध

मार्केट शेयर

डेटा अनुपलब्ध

अतिरिक्त जानकारी

मेटा डेटा

कस्तूरी एंड संस एक असूचीबद्ध कंपनी है। यह वार्षिक रिपोर्ट प्रकाशित नहीं करती है। आउटलेट के लिए वित्तीय जानकारी उपलब्ध नहीं होने के कारण कंपनी प्रबंधन की जानकारी को हिंदू केंद्र वेबसाइट से पुनर्प्राप्त किया जा सकता है। कंपनी के लिए वित्तीय जानकारी कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय से पुनर्प्राप्त की गई है। 1 फरवरी 2019 को ईमेल और कूरियर द्वारा कंपनी को सूचना हेतु अनुरोध भेजा गया था, कंपनी से अब तक कोई प्रतिक्रिया प्राप्त नहीं हुई है।

स्रोत मीडिया प्रोफाइल

  • द्वारा परियोजना
    Logo of Data leads
  •  
    Reporters without borders
  • द्वारा वित्त पोषित
    BMZ