This is an automatically generated PDF version of the online resource india.mom-rsf.org/en/ retrieved on 2020/11/25 at 09:00
Reporters Without Borders (RSF) & Data leads - all rights reserved, published under Creative Commons Attribution-NoDerivatives 4.0 International License.
Data leads logo
Reporters without borders

इंडियन एक्स्प्रेस

इंडियन एक्सप्रेस रामनाथ गोयनका द्वारा 1932 में शुरू किया गया अंग्रेजी अखबार है। इंडियन रीडरशिप सर्वे (IRS) 2017 के अनुसार, इंडियन एक्सप्रेस लगभग 1.6 मिलियन पाठकों की संख्या रखने वाला छठा सबसे अधिक पढ़ा जाने वाला अंग्रेजी अखबार है।

इंडियन एक्सप्रेस ‘द एक्सप्रेस ग्रुप ऑफ पब्लिकेशन’, द्वारा प्रकाशित किया जाता है इसके साथ ही द फाइनेंशियल एक्सप्रेस, बिसनेस डेली, लोकसत्ता मराठी दैनिक और जनसत्ता हिंदी दैनिक भी प्रकाशित करता है। एक एकल मद्रास संस्करण के रूप मे छपने वाले अखबार से, द इंडियन एक्सप्रेस आठ संस्करणों में विकसित हुआ है और आज दस अलग-अलग देशों से प्रकाशित होता है। समाचार पत्र द संडे एक्सप्रेस के रविवार संस्करण में सप्ताह की बड़ी कहानियां होती हैं। यह संस्करण एक ईवाईई पत्रिका भी प्रकाशित करता है यह फिल्मों, नाटक, यात्रा, मीडिया, मनोरंजन, कला और संस्कृति को समर्पित होती है। इंडियन एक्सप्रेस ने विभिन्न प्रतिष्ठित पुरस्कार जीते हैं, जैसे विएना स्थित इंटरनेशनल प्रेस इंस्टीट्यूशन अवार्ड फॉर पब्लिक जर्नलिज्म, इंटरनैशनल जर्नलिज्म के लिए कर्ट शॉर्क अवार्ड, पत्रकारिता के लिए नटाली पुरस्कार और इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ़ जर्नलिस्ट्स - टॉलरेंस प्राइज़ का पत्रकारिता पुरस्कार। समाचार पत्र मुख्य रूप से गोयनका परिवार के स्वामित्व मे संचालित हैं।

 

मुख्य तथ्य

श्रोतागण शेयर

0.26%

स्वामित्व प्रकार

निजी

भौगोलिक कवरेज

राष्ट्रीय

सामग्री प्रकार

भुगतान किया हुआ

डेटा सार्वजनिक रूप से उपलब्ध है

स्वामित्व डेटा अन्य स्रोतों से आसानी से उपलब्ध है, उदाहरण सार्वजनिक रजिस्ट्रियां आदि

2 ♥

मीडिया कंपनियों / समूह

द इंडियन एक्सप्रेस प्राइवेट लिमिटेड

स्वामित्व

स्वामित्व - ढाँचा

इंडियन एक्सप्रेस अख़बार द इंडियन एक्सप्रेस (पी) लिमिटेड कंपनी द्वारा पूरी तरह नियंत्रित है। विवेक गोयनका इस कांपनी के प्रबंध निदेशक और अध्यक्ष हैं साथ ही उनके बेटे अनंत गोयनका, द इंडियन एक्सप्रेस के कार्यकारी निदेशक, द इंडियन एक्सप्रेस (पी) लिमिटेड में 40% शेयर के मालिक हैं, जबकि शेकर गुप्ता और नीलम जॉली के पास कंपनी में 9% शेयर हैं। इंडियन एक्सप्रेस होल्डिंग्स एंड प्राइवेट एंटरप्राइजेज लिमिटेड के पास कंपनी के 50.99% शेयर हैं और द इंडियन एक्सप्रेस (पी) लिमिटेड के शेष 0.01% शेयर वैदेही ठकर, मोनिका बंसल, पूरवी कमानी, जॉर्ज वर्गीज, विनायक शेटे, मुन्नाराम प्रसाद, सैंड्रा नज़ारेथ, क्लीयरेंस पैट्रिक और नीता फ़िचार्डो एस के बीच विभाजित हैं।
विवेक गोयनका के पास इंडियन एक्सप्रेस होल्डिंग्स और प्राइवेट एंटरप्राइजेज लिमिटेड का 24.96% हिस्सा है और 75% शेयर अनंत गोयनका के पास है, इसलिए, इंडियन एक्सप्रेस होल्डिंग्स और प्राइवेट एंटरप्राइजेज लिमिटेड में विवेक और अनंत गोयनका की कुल हिस्सेदारी 99.96 है। शेष 0.04% हिस्सा 11 अन्य व्यक्तियों के बीच विभाजित है। इंडियन एक्सप्रेस होल्डिंग्स और प्राइवेट एंटरप्राइजेज लिमिटेड के माध्यम से, विवेक गोयनका और उनके बेटे अनंत गोयनका के पास इंडियन एक्सप्रेस (पी) लिमिटेड कंपनी का 50.96% हिस्सा है।
विवेक गोयनका और उनके बेटे अनंत गोयनका ने द इंडियन एक्सप्रेस (पी) लिमिटेड कंपनी के कुल 90.96% शेयर अपने पास रखे हैं।

मताधिकार

डेटा अनुपलब्ध

व्यक्तिगत स्वामी

मीडिया कंपनियों / समूह
तथ्य

सामान्य जानकारी

स्थापना वर्ष

1932

संस्थापक संबद्ध व्यवसाय

रामनाथ गोयनका

एक स्वतंत्रता सेनानी थे और महात्मा गांधी के साथ भारत की आजादी की लड़ाई मे भी भागीदार थे। 1922 में, उनके परिवार ने उन्हें ‘यार्न’ और ‘जूट’ के व्यवसायी के बतौर मद्रास (अब चेन्नई) भेजा। 1934 में, उन्होंने ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ अखबार के स्वामित्व वाली एक स्थानीय कंपनी में शेयर खरीदे। ठीक दो साल बाद उन्होने कंपनी को खरीदने के अलावा निर्भीक, खोजी और स्वतंत्र पत्रकारिता का प्रतिध्वनित करने वाला अखबार भी प्रारम्भ किया।
आजादी से पहले भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के साथ जुड़े होने के कारण और 1975 में आपातकाल के दौरान इंदिरा गांधी के राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी जय प्रकाश नारायण का समर्थन करने पर गोयनका को कांग्रेस की प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की नाराजगी का भी समाना करना पड़ा। इसी तरह की नाराजगी आगे आने वाले कांग्रेस की सरकार मे भी उन्हे झेलनी पड़ी क्योंकि उन्होने इंदिरा गांधी और तत्कालीन प्रधानमंत्री बेटे राजीव गांधी के खिलाफ भी भ्रष्टाचार और घोटाले उजागर किए।
1941 में रामनाथ गोयनका को राष्ट्रीय समाचार पत्र संपादक सम्मेलन का अध्यक्ष चुना गया। वह पहली संविधान सभा के सदस्य भी थे।1948 में दैनिक तेज अखबार के सहयोग से, उन्होंने चेन्नई में अंग्रेजी समाचार ‘पत्र द इंडिया न्यूज क्रॉनिकल’ की शुरुआत की और बाद में इसका नाम बदलकर ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ रख दिया। स्वतंत्रता के बाद, वह भारत की संविधान सभा के नियुक्त सदस्य थे, जिसका गठन भारत के संविधान की रूपरेखा तैयार करने के लिए किया गया था।

सी ई ओ संबद्ध व्यवसाय

जॉर्ज वर्गीज

‘इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट डेवलपमेंट एंड रिसर्च, पुणे से एमबीए हैं। जॉर्ज वर्गीज वर्तमान में द इंडियन एक्सप्रेस प्राइवेट लिमिटेड के सीईओ और प्रबंध निदेशक हैं, इस क्षेत्र मे उनके पास 20 से अधिक वर्षों का अनुभव है। इससे पहले, वह द इंडियन एक्सप्रेस प्राइवेट लिमिटेड (1988-1998) में मार्केटिंग के मुख्य महाप्रबंधक, ह्यूजेस टेलीकॉम (1998-2002) के अध्यक्ष और सीईओ, रिलायंस कम्युनिकेशन (2002-2010) के भी अध्यक्ष थे और वर्ष 2013 में इंडियन एक्सप्रेस लिमिटेड के सीईओ रूप में वापस हुए। ।

इसके साथ ही वह वर्तमान समय मे अन्य समूहों और नई कंपनियों के निदेशक भी हैं जैसे द इंडियन एक्सप्रेस प्रिंट मीडिया लिमिटेड, आईई बिजनेस पब्लिकेशन लिमिटेड, इंडियन एक्सप्रेस प्रॉपर्टी प्राइवेट लिमिटेड, गोयनका वेंचर्स (आई) लिमिटेड, इंडियन एक्सप्रेस कमर्शियल वेंचर्स एंड प्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड, ग्लोबल फेयर एंड मीडिया प्राइवेट लिमिटेड, आई ई ऑनलाइन मीडिया सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड, टेकवेन प्राइवेट लिमिटेड, न्यूजस्कूल वेंचर्स लिमिटेड आदि।

मुख्या संपादक संबद्ध व्यवसाय

राज कमल झा

झा ने इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, खड़गपुर और यूनिवर्सिटी ऑफ सदर्न कैलिफोर्निया से पत्रकारिता में और साथ ही मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक की डिग्री प्राप्त की है। प्रारंभिक चरण में उन्होंने लॉस एंजिल्स टाइम्स और वाशिंगटन पोस्ट में इंटर्नशिप की साथ ही वह कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय में एक विजिटिंग प्रोफेसर भी थे। इसके अलावा झा को उनकी पुस्तक, “द ब्लू बेडस्प्रेड" को यूरेशिया क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ पहली पुस्तक के लिए राष्ट्रमंडल लेखक का पुरस्कार दिया गया। इसके अलावा उन्होंने "फायरप्रूफ" और “इफ यू आर अफरेड आफ हाइट्स” दो और किताबें लिखी हैं।

अन्य महत्वपूर्ण लोग संबद्ध व्यवसाय

विवेक गोयनका

‘इंडियन एक्सप्रेस’ के संस्थापक रामनाथ गोयनका के दत्तक पुत्र हैं। उनके पास मद्रास विश्वविद्यालय से प्रौद्योगिकी में स्नातक की डिग्री है साथ ही वर्तमान मे वह ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक और यूनाइटेड न्यूज़ ऑफ़ इंडिया के निदेशक हैं। पूर्व में, वह प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया के निदेशक रहे हैं, और ऑडिट ब्यूरो ऑफ सर्कुलेशन के काउंसिल सदस्य हैं और भारतीय समाचार पत्र सोसायटी के सबसे कम उम्र के अध्यक्षों में से एक रहे हैं। वह इंडिया न्यूजपेपर सोसाइटी के कार्यकारी सदस्य के रूप में कार्य कर रहे हैं।

विवेक गोयनका गजानन एग्रीटेक प्राइवेट लिमिटेड, द फाइनेंशियल एक्सप्रेस प्रिंट मीडिया प्राइवेट लिमिटेड, लोकसत्ता प्राइवेट लिमिटेड, आई. ई. बिजनेस पब्लिकेशन लिमिटेड, द चॉकलेट स्पून कंपनी प्राइवेट लिमिटेड, गोयन वेंचर्स (आई) लिमिटेड, द इकोनॉमी सहित कई अन्य कंपनियों के निदेशक हैं। पॉलिसी रिसर्च फाउंडेशन, टेकवेन प्राइवेट लिमिटेड, विंटेज एंड क्लासिक कार फेडरेशन ऑफ इंडिया, अन्य के साथ भी संबंधित हैं।

अनंत गोयनका, विवेक गोयनका के पुत्र है, वर्तमान में वह द इंडियन एक्सप्रेस और न्यू मीडिया के प्रमुख कार्यकारी निदेशक हैं और व्यवसाय प्रकाशन विभाग भी संभालते हैं। अनंत गोयनका डिजीबिज इन्फोकॉम प्राइवेट लिमिटेड, एना एना रियलिटी प्राइवेट लिमिटेड, टेकवेन प्राइवेट लिमिटेड, डिजिटल न्यूज पब्लिशर्स एसोसिएशन, इंडियन एक्सप्रेस होल्डिंग्स एंड एंटरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड और इनोवेटिव टेक टीम मीडिया एंटरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड के भी निदेशक हैं। उनके पास बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन और ब्रांड मैनेजमेंट में बैचलर डिग्री है, मार्शल स्कूल ऑफ बिजनेस, यूनिवर्सिटी ऑफ सदर्न कैलिफोर्निया, और एनबर्ग स्कूल ऑफ जर्नलिज्म यूनिवर्सिटी ऑफ सदर्न कैलिफोर्निया से प्रिंट जर्नलिज्म में मास्टर डिग्री है।

संपर्क करें

कारपोरेट आफिस :

एक्स्प्रेस बिल्डिंग ,

बी-1/बी, सेक्टर -10,

नोइडा - 201 301

टेलीफोन : +91-120-6651500

फैक्स : +91-120-4367933

वेबसाइट : <a href="expressgroup.indianexpress.com" class="intern" target="_blank">expressgroup.indianexpress.com

 

रजिस्टर्ड आफिस :

द इंडियन एक्स्प्रेस [पी] लिमिटेड

एक्सप्रेस टावर्स, पहली मंजिल [मेज़ानाइन]

नरीमन प्वाइंट,

मुंबई- 400 021

टेलीफोन : 022 6744002

वेबसाइट: <a href="expressgroup.indianexpress.com" class="intern" target="_blank">expressgroup.indianexpress.com

 

वित्तीय जानकारी

राजस्व (मिलियन डॉलर में)

डेटा अनुपलब्ध

परिचालन लाभ

डेटा अनुपलब्ध

विज्ञापन (कुल धन का%)

डेटा अनुपलब्ध

मार्केट शेयर

डेटा अनुपलब्ध

अतिरिक्त जानकारी

मेटा डेटा

इंडियन एक्सप्रेस (पी) लिमिटेड कंपनी एक असूचीबद्ध कंपनी है। प्रबंधन की जानकारी कंपनी की वेबसाइट से एकत्र की गई है। वित्तीय और हिस्सेदारी की जानकारी कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय से एकत्र की गई है। चूंकि यह एक असूचीबद्ध कंपनी है, इसलिए यह वार्षिक रिपोर्ट प्रकाशित नहीं करती है और न ही कंपनी के समाचार पत्रों पर वित्तीय जानकारी उपलब्ध है। साथ ही, जानकारी के लिए अनुरोध 1 फरवरी -19 को एक मेल और कूरियर के द्वारा कंपनी को भेजा गया था लेकिन कोई प्रतिक्रिया प्राप्त नहीं हुई है।

स्रोत मीडिया प्रोफाइल

  • द्वारा परियोजना
    Logo of Data leads
  •  
    Reporters without borders
  • द्वारा वित्त पोषित
    BMZ