This is an automatically generated PDF version of the online resource india.mom-rsf.org/en/ retrieved on 2019/10/17 at 07:53
Reporters Without Borders (RSF) & Data leads - all rights reserved, published under Creative Commons Attribution-NoDerivatives 4.0 International License.
Data leads logo
Reporters without borders

क्रियाविधि


सिद्धांत: लोकतांत्रिक समाजों के लिए मीडिया बहुलतावाद का महत्व

मीडिया बहुलवाद किसी भी लोकतांत्रिक समाज का एक महत्वपूर्ण पहलू है, मीडिया विविधता व स्वतंत्रता समाज की अवस्थिति और  अलग-अलग दृष्टिकोणों को दर्शाता है  साथ ही सत्ता के लोगों की  आलोचना करने का साहस भी देता है।  आम तौर पर, आप ‘आंतरिक मीडिया बहुलवाद’ के बीच अंतर कर सकते हैं जो यह बताता है  कि मीडिया मे उपलब्ध सामग्री से  सामाजिक और राजनीतिक विविधता कैसे परिलक्षित होती है, (जैसे: विभिन्न सांस्कृतिक समूहों, विविध राजनीतिक या वैचारिक विचारों का प्रतिनिधित्व) और बाहरी मीडिया बहुलवाद, जो मालिकों की संख्या और संरचना को भी बताता है, आपूर्तिकर्ताओं को "बहुलता" के रूप में जाना जाता है।

विचारों की विविधता के जोखिम मीडिया बाजार की अत्यधिक उपलब्धता - मीडिया बहुलवाद के विपरीत:

  • जब कुछ ‘प्ल्येर्स’ जनमत पर प्रभाव डालते हैं और अन्य ‘प्ल्येर्स’ और दृष्टिकोणों को बनने (मीडिया स्वामित्व (पहुँच) एकाग्रता) के लिए समस्या निर्माण करते है अथवा मौजूदा समस्याओं को बढ़ाते हैं;
  • जब मीडिया सामग्री एकसमान हो और केवल विशिष्ट विषयों, लोगों, विचारों और विचारों (मीडिया सामग्री (पहुँच) एकाग्रता) पर केंद्रित है;
  • जब दर्शक कुछ मीडिया ‘आउटलेट्स’ (मीडिया ऑडियंस एकाग्रता) पढ़ता, देखता और सुनता हो।

     

     

    उदेश्य: मीडिया स्वामित्व पारदर्शिता बनाना

    इस बात के बावजूद कि मीडिया बहुलतावाद कई आयामों और चेहरों के रूप में हमारे सामने है, एमओएम बाहरी बहुलवाद पर केंद्रित है। स्पष्ट रूप से कहें तो मीडिया स्वामित्व  और मीडिया बहुलता के संभावित खतरे के रूप मे प्रभावी है।इससे लड़ने के लिए सबसे बड़ी बाधा मीडिया स्वामित्व मे पारदर्शिता की कमी है, लोग जानकारी की विश्वसनीयता का मूल्यांकन कैसे करें यदि उन्हें नहीं पता कि यह सेवा उन्हे कौन प्रदान करता है? पत्रकार कैसे ठीक से काम कर सकते हैं, अगर उन्हें नहीं पता कि वे जिस कंपनी के लिए काम करते हैं उसे कौन नियंत्रित करता है?  मीडिया अधिकारी अत्यधिक मीडिया (पहुँच) एकाग्रता को कैसे संबोधित कर सकते हैं, यदि उन्हें नहीं पता कि मीडिया के स्टीयरिंग व्हील के पीछे कौन है?

    इसीलिए एमोएम का उद्देश्य पारदर्शिता बनाना और इस सवाल का जवाब देना है कि "आखिरकार मीडिया कंटेंट को कौन नियंत्रित करता है”?

    • विभिन्न प्रकार के मीडिया (टेलीविजन, रेडियो, इंटरनेट, प्रिंट) के सबसे महत्वपूर्ण मीडिया आउटलेट्स के मालिक और उनके संबद्धों के बारे में सूचित करके;
    • दर्शकों की पहुंच के आधार पर सार्वजनिक राय बनाने की प्रक्रिया मे संभावित प्रभाव का विश्लेषण करके;
    • मीडिया स्वामित्व और एकाग्रता के नियमन पर प्रकाश डालने के साथ-साथ विनियामक सुरक्षा उपायों को लागू करके।

    साधन: डेटा संग्रह और ‘फ़ील्डवर्क’

    एक सामान्य कार्यप्रणाली के आधार पर, "मीडिया स्वामित्व नियंत्रण" (एमोएम) को एक सार्वजनिक रूप से उपलब्ध, निरंतर अपडेटेड डेटाबेस बनाने के अभ्यास के रूप में विकसित किया गया, जो सभी प्रासंगिक जन मीडिया आउटलेट्स के मालिकों को सूचीबद्ध करता है। यह इस बात पर पारदर्शिता बनाता है कि मीडिया का मालिक कौन है, कौन किस के हित पर निर्भर है और एक दूसरे पर कितनी निर्भरता है। वास्तव में जनता की राय निर्माण पर संभावित प्रभाव किसका है। फील्डवर्क केवल यह पता लगाने के उद्देश्य से नहीं होता है कि कौन कितना ‘स्टेक’ रखता है, बल्कि यह जांच करने के लिए भी होता है कि अंततः मीडिया को कौन नियंत्रित करता है। इसके अलावा, एमओएम देशों में संबंधित बाजार की बारीकियों और कानूनी वातावरण का आकलन करके एक सारगर्भित और गुणात्मक विश्लेषण प्रदान करता है। 

    डेटा संग्रह रिपोर्टर्स विदाउट बॉर्डर्स (आरएसएफ ) के सहयोग से (डेटा एलईडीएस) के एक स्थानीय शोध दल के द्वारा किया गया था।

    साधन: एमोएम - उपयोगकर्ता गाइड

    डेटा संग्रहकर्ताओं के मार्फत एक विस्तृत उपयोगकर्ता गाइड का निर्माण किया गया है जो की निम्नलिखित वर्गों मे विभाजित है:·      

    • खंड ए "संदर्भ" मीडिया बाजार और इसके अतिरिक्त स्थितियों पर नज़रिया प्रदान करता है, जैसे कि स्वामित्व मुद्दों से संबंधित नियामक ढांचा, देश की जानकारी और मीडिया-विशिष्ट डेटा। यह खंड निम्नलिखित वर्गों के निष्कर्षों को बेहतर ढंग से समझने और मीडिया की बहुलता के लिए अनुमानित जोखिमों का अनुमान लगाने मे मदद देता है।·      
    • धारा बी "मीडिया मार्केट" में, मीडिया के प्रकार जो राय-गठन के लिए प्रासंगिक हैं, दर्शकों की पहुंच के आधार पर सहमत हैं।  मीडिया आउटलेट्स चुने गए - 24 टीवी स्टेशन, 1 रेडियो स्टेशन, 25 प्रिंट आउटलेट और  इंटरनेट आउटलेट।·      
    • धारा सी "स्वामित्व", मालिक / शेयरधारक / सबसे प्रासंगिक मीडिया पर प्रभाव वाले लोगों पर शोध किया गयाहै।  प्रमुख मीडिया कंपनियों को आर्थिक रूप से परिभाषित किया गया है (उनके राजस्व से संबंधित) या दर्शकों द्वारा उनके स्वामित्व की विशेषताओं के बारे में साथ ही कंपनियों और व्यक्तिगत मालिकों की जांच की गई।·      
    • धारा डी. “संकेतक” उन संकेतकों की व्याख्या करता है जो मीडिया के स्वामित्व नियंत्रण के एक निश्चित स्तर के कारण मीडिया बहुलवाद के जोखिमों के लिए एक सूचकांक की गणना करने की अनुमति देते हैं।

    उपयोगकर्ता गाइड पहले से मौजूद मीडिया स्वामित्व और मीडिया बहुलवाद अनुसंधान के आधार पर विकसित किया गया है। संकेतक यूरोपीय विश्वविद्यालय संस्थान (ईयूआई, फ्लोरेंस) में यूरोपीय संघ द्वारा वित्त पोषित ‘मीडिया प्लूरसिम मॉनिटर’ के ‘सेंटर फॉर मीडिया प्लूरसिम फ़्रीडम’ के साथ और सामंजस्य से  प्रेरित हैं।

    • द्वारा परियोजना
      Logo of Data leads
    •  
      Reporters without borders
    • द्वारा वित्त पोषित
      BMZ