This is an automatically generated PDF version of the online resource india.mom-rsf.org/en/ retrieved on 2019/12/15 at 08:38
Reporters Without Borders (RSF) & Data leads - all rights reserved, published under Creative Commons Attribution-NoDerivatives 4.0 International License.
Data leads logo
Reporters without borders

टीवी

भारत में टेलीविजन की शुरुआत हुई 15 सितम्बर 1959 को, दिल्ली में एक प्रायोगिक प्रसारण के साथ। 1965 में प्रतिदिन एक घंटे का समाचार सेवा आरम्भ हुई।  1972 में टेलीविज़न सेवायें बम्बई तक ले जाया गया।  1975 तक ये सेवा और शहरों में भी ले जाया गया जैसे कलकत्ता, मद्रास, अमृतसर और लखनऊ। 1976 में राज्य के सार्वजनिक प्रसारक - दूरदर्शन का घटन हुआ, सूचना और प्रसारण मंत्रालय के तहत, एक अलग डिपार्टमेंट के रूप में।  इ4सके बाद ये सेवा आठ अन्य स्टेशन तक बढ़ाया गया जिससे 45 मिलियन लोगों तक  पहुंचा। 

1982 तक भारत में टेलीविज़न सिर्फ ब्लैक एंड व्हाइट में दिखाया जाता था।  1982 में जब भारत ने एशियाई खेल की मेज़बानी की, तब कलर टेलीविज़न का दौर शुरू हुआ।  उसके बाद करीब एक दशक तक दूरदर्शन देश का एक मात्र टेलीविज़न स्टेशन था।  1991 में दक्षिण भारत के तमिलनाडु में स्थित सन नेटवर्क, और बाद में उत्तर भारत में ज़ी टीवी, भारत में पहले "निजी" टेलीविजन चैनल को लांच किया। सिर्फ दूरदर्शन के कार्यक्रम देखते आये भारत के लोगों को यह एक नया अनुभव था।  आज देश में लगभग 900 टेलीविजन चैनल हैं, जिनमें से 400 से अधिक समाचार चैनल हैं। MOM ने भारत के 23 प्रमुख टेलीविजन स्टेशनों के स्वामित्व संरचनाओं की जांच की है।

टीवी डेटाबेस
  • द्वारा परियोजना
    Logo of Data leads
  •  
    Reporters without borders
  • द्वारा वित्त पोषित
    BMZ